भारत-ब्राजील संबंधों को मिलेगी नई ऊंचाइयां-राजदूत ब्राजील

158
भारत-ब्राजील संबंधों को मिलेगी नई ऊंचाइयां-राजदूत ब्राजील
भारत-ब्राजील संबंधों को मिलेगी नई ऊंचाइयां-राजदूत ब्राजील

गोवंश संवर्धन के लिए ब्राजील से मिलेगा सहयोग, आनंदा डेयरी के साथ ब्राजील की दो कंपनियों से हुआ एमओयू। डेयरी सेक्टर की बेहतरी के लिए पशुचारा और नस्ल सुधार दोनों महत्वपूर्ण। भारत-ब्राजील के संबंधों को मिलेगी नई ऊंचाइयां, साथ मिलकर करेंगे काम। जीआईएस रोड शो के दौरान ब्राजील गई टीम यूपी से हुई थी बात, अब हुआ औपचारिक समझौता। मुख्यमंत्री और भारत में ब्राजील के राजदूत के समक्ष आनंदा डेयरी के साथ हुआ ब्राजीलियन कंपनियों का औपचारिक एमओयू। ब्राजीली कंपनी अमेरिया पजोरा पशु चारा सामग्री निर्माण की तकनीक करेगी साझा, नस्ल सुधार में सहयोग करेगी बीएच एम्ब्रियोस। भारत-ब्राजील संबंधों को मिलेगी नई ऊंचाइयां-राजदूत ब्राजील

निष्पक्ष दस्तक ब्यूरो

प्रदेश के डेयरी सेक्टर को बड़ा औद्योगिक स्वरूप देने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रयासों को बड़ी सफलता मिली है। ब्राजील की दो बड़ी कंपनियों ने प्रदेश की आनंदा डेयरी के साथ मिलकर पोषण युक्त पशु चारा निर्माण और गोवंश नस्ल सुधार के लिए साथ मिलकर काम करने का निर्णय लिया है। बीते दिसंबर, 2022 में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट रोड शो के दौरान ब्राजील गई टीम यूपी के साथ हुई बातचीत के बाद अब इसे क्रियान्वित किया जा रहा है। सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भारत में ब्राजील के राजदूत केनेथ नोब्रेगा की उपस्थिति में आनंदा डेयरी के साथ ब्राजीलियन कंपनी अमेरिया पजोरा और बीएच एम्ब्रियोस के साथ औपचारिक एमओयू सम्पन्न हुआ।

विशेष अवसर पर उत्तर प्रदेश आए ब्राजीलियन प्रतिनिधिमंडल का स्वागत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत एवं ब्राजील के संबंध सदा मैत्रीपूर्ण रहे हैं। दोनों देशों के बीच आपसी समझ, बढ़ते हुए द्विपक्षीय व्यापार तथा सर्वांगीण सहयोग है। मुख्यमंत्री ने कहा कि गत दो वर्षों में भारत और ब्राजील के बीच द्विपक्षीय व्यापार दोगुना हो गया है। इसमें वित्तीय वर्ष 2022-23 में भारत से ब्राजील को 4.5 बिलियन यूएस डॉलर का निर्यात किया गया तथा ब्राजील से भारत द्वारा 7.14 बिलियन यूएस डॉलर का आयात हुआ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत एवं ब्राजील के बीच कृषि, खाद्य प्रसंस्करण एवं पशुपालन द्विपक्षीय सहयोग के अन्य प्रमुख फोकस क्षेत्र हैं। उन्होंने कहा कि ब्राज़ील और भारत के गोधन की आनुवंशिक विरासत समान है। सदियों पहले निर्यात किए गए गिर और कांकरेज जैसे भारतीय मवेशियों को बड़ी मात्रा में दूध देने के लिए तैयार किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रतिष्ठित डेयरी समूह आनंदा ग्रुप और ब्राजील की कंपनियों, अमेरिया पजोरा एवं बीएच एम्ब्रियोस के बीच एमओयू उत्तर प्रदेश के किसानों के लिए दुधारु पशुओं के पोषण एवं प्रजनन में उपयोग की जाने वाली उन्नत तकनीक के माध्यम से दूध उत्पादन में वृद्धि के मार्ग को प्रशस्त करने में मदद करेगी।

भारत-ब्राजील के संबंधों को मिलेगी नई ऊंचाइयां, साथ मिलकर करेंगे काम-राजदूत ब्राजील

इससे पहले भारत में ब्राजील के राजदूत केनेथ नोब्रेगा ने उत्तर प्रदेश आगमन पर प्रसन्नता जताते हुए कहा कि दोनों देशों की प्रतिष्ठित कंपनियों के बीच हुआ यह व्यपारिक समझौता देशों के बीच पारस्परिक संबंधों को और मजबूत करने वाला होगा।कार्यक्रम के दौरान, आनंदा डेयरी, अमेरिया पजोरा और बीएच एम्ब्रियोस के प्रतिनिधियों ने अपनी भावी योजनाओं से मुख्यमंत्री को अवगत कराया। बता दें कि अमेरिया पजोरा कंपनी प्रमुख रूप से (कुत्तों व बिल्लियों को छोड़कर) पशुओं एवं पक्षियों के लिए पशु चारा, चारा-सामग्री एवं सहायक सामग्री का उत्पादन करती है। कंपनी अपने उत्पादों को पांच महाद्वीपों के देशों को निर्यात करती है। वहीं, बीएच एम्ब्रियोस कंपनी को इन विट्रो तथा विवो दोनों विधियों में मवेशियों के भ्रूण का उत्पादन करने में विशेषज्ञता प्राप्त है। भारत-ब्राजील संबंधों को मिलेगी नई ऊंचाइयां-राजदूत ब्राजील