अनियमितता एवं लेटलतीफी बर्दाश्त नहीं-जितिन प्रसाद

66
अनियमितता एवं लेटलतीफी बर्दाश्त नहीं-जितिन प्रसाद
अनियमितता एवं लेटलतीफी बर्दाश्त नहीं-जितिन प्रसाद

लोक निर्माण मंत्री जितिन प्रसाद ने उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम के कार्यों की समीक्षा बैठक की। निगम द्वारा कराए जा रहे कार्यों में पारदर्शिता एवं गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखते हुए निर्धारित समय सीमा में कार्य पूर्ण कराया जाए। अनियमितता एवं लेटलतीफी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।अनियमितता एवं लेटलतीफी बर्दाश्त नहीं-जितिन प्रसाद

लखनऊ। आज यहां उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम मुख्यालय स्थित सभागार में प्रमुख सचिव लोक निर्माण अजय चौहान एवं एमडी यूपीआरएनएन योगेश पवार तथा निगम के अन्य अधिकारियों के साथ लोक निर्माण मंत्री जितिन प्रसाद ने निगम के कार्यों की समीक्षा बैठक की। लोक निर्माण मंत्री ने समीक्षा बैठक में धीमी प्रगति वाले कार्यों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिया कि निगम द्वारा कराए जा रहे कार्यों में पारदर्शिता एवं गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखते हुए निर्धारित समय सीमा में पूर्ण कराया जाए। किसी प्रकार की अनियमितता एवं लेटलतीफी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अनियमितता पाए जाने पर संबंधित की जवाबदेही तय करते हुए कार्यवाही भी की जाएगी।

read more-सर्वोतम नगरी होगी अयोध्या-योगी

लोक निर्माण मंत्री ने निर्देश दिया कि निगम के पुनरोद्धार हेतु विस्तृत रोड मैप तैयार करते हुए आवश्यक कार्यवाही की जाये ताकि निगम अपनी पुरानी ख्याति पुनः प्राप्त कर सके।निर्माणाधीन जिन कार्यों की प्रगति 75 प्रतिशत से ज्यादा है, उन्हें शीघ्र पूर्ण कर जनोपयोगी बनाया जाये। निगम के जो कार्य विगत कई वर्षों से वित्तीय अनियमितता के कारण अधूरे पड़े हैं उन पर शीघ्र दोषियों के विरूद्ध कार्यवाही करते हुए धन वसूली की जाये। आवश्यकतानुसार प्रकरण जांच हेतु एस०आई०टी० को सन्दर्भित किया जाये।

निगम के गिरते टर्नओवर के सम्बन्ध में निर्देशित किया कि अधिक से अधिक कार्य अर्जन करते हुए टर्नओवर बढाया जाये। प्रदेश के अन्दर लोक निर्माण विभाग द्वारा ई०पी०सी० मोड पर प्रकाशित निविदा कार्यों को भी अधिक से अधिक अर्जित करने का प्रयास किया जाये। निगम में तकनीकी स्टाफ की कमी के दृष्टिगत निर्देशित किया कि आवश्यकता के दृष्टिगत प्रत्येक कैडर का आंकलन करते हुए नियमानुसार नई भर्ती की कार्यवाही की जाये। निगम के विभिन्न सर्वगों में विगत कई वर्षों से लम्बित पदोन्नतियों की नियमानुसार कार्यवाही सुनिश्चित की जाये।

अनियमितता एवं लेटलतीफी बर्दाश्त नहीं-जितिन प्रसाद