आचार संहिता से पहले हो पेंशन बढ़ोतरी की घोषणा

35
आचार संहिता से पहले हो पेंशन बढ़ोतरी की घोषणा
आचार संहिता से पहले हो पेंशन बढ़ोतरी की घोषणा

अजय सिंह

लखनऊ। आचार संहिता लगने से पहले पेंशन बढ़ोतरी की घोषणा हो। ईपीएस-95 राष्ट्रीय संघर्ष समिति और अपट्रान वी आर एस कर्मचारी कल्याण समिति के संयुक्त तत्वाधान में पेंशनरों की एक सभा टिकैत राय तालाब ,राजाजीपुरम में संपन्न हुई।सभा में पेंशन आंदोलन में अपट्रान कर्मियों की अहम भागीदारी की सराहना करते हुए कहा गया है कि मोदी सरकार को मानवीय आधार पर न्यूनतम पेंशन 7500 रुपए महीना, महंगाई भत्ता और फ्री मेडिकल सुविधा की घोषणा चुनाव आचार संहिता लगने से पूर्व तत्काल कर देनी चाहिए। सभा में राष्ट्रीय सचिव राजीव भटनागर ने पिछले दिनों दिल्ली में अनशन के बाद सांसद हेमा मालिनी जी की पहल पर श्रम मंत्रालय, ईपीएफओ और एनएसी के वरिष्ठ पदाधिकारी की मीटिंग का पूरा ब्यौरा दिया ।जिसमें पेंशन बढ़ोतरी के प्रस्तावों पर गंभीरता पूर्वक विचार विमर्श हुआ था और पेंशनरों को फिलहाल अंतरिम राहत देने के संकेत मिले थे। सभा को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के एस तिवारी ने कहा कि दिल्ली में जो कार्रवाई चल रही है उससे उम्मीद है कि जल्दी पेंशन बढ़ोतरी की घोषणा हो जानी चाहिए।

सभा में अपट्रान कल्याण समिति की महिलाएं एवं पुरुष पेंशनर बड़ी संख्या में शामिल हुए। सभा को एनएसी के प्रांतीय महामंत्री राजशेखर नागर , संगठन मंत्री राजेश द्विवेदी, मीडिया प्रभारी सुभाष चौबे,अचल मेहता , वि पी सिंह, मुकेश भटनागर,गीता वर्मा सुनीता सोनकर,अखिलेश दयालआदि अनेक वरिष्ठ पदाधिकारियों ने संबोधित किया। सभा का संचालन संयुक्त सचिव आर एन द्विवेदी ने किया।सभा में निर्णय लिया गया कि एन ए सी द्वारा आंदोलन के लिए जो भी निर्देश दिए जाएंगे अपट्रान कल्याण समिति उसमें बढ़-चढ़कर हिस्सा लेगी और जब तक पेंशनरों की मांगे पूरी नहीं हो जातीआंदोलन जारी रहेगा। आचार संहिता से पहले हो पेंशन बढ़ोतरी की घोषणा