औद्योगिक विकास को गति देंगे ‘सुपर 30’ प्रोजेक्ट्स

40
औद्योगिक विकास को गति देंगे 'सुपर 30' प्रोजेक्ट्स
औद्योगिक विकास को गति देंगे 'सुपर 30' प्रोजेक्ट्स

लखनऊ मंडल में औद्योगिक विकास को गति देंगे ‘सुपर 30’ प्रोजेक्ट्स। लखनऊ मंडल के सभी 6 जिलों में ₹18,347 करोड़ रुपए से स्थापित होंगी ‘सुपर 30’ परियोजनाएं। उन्नाव, सीतापुर, हरदोई और लखनऊ में धरातल पर उतर रहीं हजारों करोड़ की निवेश परियोजनाएं। लखीमपुर खीरी और रायबरेली में भी सैकड़ों करोड़ की उद्योग परियोजनाओं से क्षेत्र की बदलेगी तस्वीर। लखनऊ मंडल में ‘सुपर 30’ निवेश प्रोजेक्ट से 21,650 रोजगार के अवसर होगे सृजित। औद्योगिक विकास को गति देंगे ‘सुपर 30’ प्रोजेक्ट्स

ब्यूरो निष्पक्ष दस्तक

लखनऊ। विगत वर्ष यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट और एक साल बाद ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के चौथे संस्करण के बाद यूपी के सभी जनपदों में भारी निवेश धरातल पर उतर चुका है। वहीं लखनऊ मंडल की बात करें तो इसके अंतर्गत आने वाले 6 जनपदों में से प्रत्येक में स्थापित हो रही पांच-पांच बड़ी निवेश परियोजनाएं पूरे मंडल में ‘सुपर 30’ का आकार लेंगी। इनसे उन्नाव, सीतापुर, हरदोई और लखनऊ में हजारों करोड़ रुपए जबकि लखीमपुर खीरी और रायबरेली में सैकड़ों करोड़ रुपए की परियोजनाएं धरातल पर उतरना शुरू हो गई हैं। लखनऊ मंडल के 6 जिलों में स्थापित हो रही ‘सुपर 30’ प्रोजेक्ट से 21,650 रोजगार के अवसर भी सृजित होंगे।

लखनऊ जिले की टॉप 5 कंपनियां देंगी ₹1770 रोजगार

लखनऊ जनपद में निवेश करने वाले टॉप 5 प्रोजेक्ट के जरिए ₹7,374 करोड़ की परियोजनाएं धरातल पर उतर चुकी हैं। अब इनकी स्थापना का कार्य चल रहा है। इनमें टाटा टेक्नोलॉजी लिमिटेड द्वारा ₹4,174 करोड़ का निवेश किया गया है। वहीं अशोक लिलेंड लिमिटेड की ओर से कॉमर्शियल बस मैन्युफैक्चरिंग के क्षेत्र में ₹1,000 करोड़ का निवेश किया गया है। इसके बाद हमसफर डीलर प्राइवेट लिमिटेड ने ₹800 करोड़, ओमेक्स लिमिटेड की ओर से ₹120 करोड़ और एक्सेरियन डेवलपर्स लिमिटेड की ओर से ₹650 करोड़ का निवेश किया गया है। लखनऊ में इन टॉप 5 प्रोजेक्ट के जरिए 1,770 रोजगार के नये अवसर सृजित होंगे।

उन्नाव जिले की टॉप 5 कंपनियां देंगी ₹3,585 रोजगार

उन्नाव जनपद में टॉप 5 प्रोजेक्ट के जरिए ₹3,585 करोड़ रुपए की परियोजनाएं धरातल पर उतर चुकी हैं। इनमें सीयू इंटरनेशनल की ओर से प्राइवेट यूनिवर्सिटी स्थापित की जा रही है। ₹2 हजार करोड़ की इस परियोजना से 3,500 रोजगार के अवसर सृजित होंगे। इसी प्रकार रिमझिम स्टेनलेस लिमिटेड ₹500 करोड़ का निवेश कर रही है। इसके अलावा आरएचएल प्रोफाइल लिमिटेड ने ₹500 करोड़, मेटेओर वेयरहाउस प्राइवेट लिमिटेड की ओर से ₹450 करोड़ और रिलायंस इंडस्ट्री लिमिटेड की ओर से सीबीजी प्लांट में 135 करोड़ का निवेश किया गया है। उन्नाव में स्थापित होने वाली टॉप 5 परियोनाओं से 5,585 रोजगार के अवसर सृजित होंगे।

सीतापुर में टॉप 5 कंपनियों ने किया ₹3,502 करोड़ का निवेश

सीतापुर जनपद में उतर रही टॉप 5 निवेश परियोजनाओं का आकार ₹3,502 करोड़ का है। इनमें ग्रीनलैम साउट लिमिटेड की ओर से ₹1,500 करोड़, सेंचुरी प्लाईबोर्ड इंडिया लिमिटेड की ओर से ₹1,500 करोड़, आरएवी ग्लोबल सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड की ओर से होटल इंडस्ट्री में ₹200 करोड़ रुपए, डालमिया भारत शुगर एंड इंडस्ट्री लिमिटेड की ओर से ₹170 करोड़ और दि सेकसरिया बिस्वां सुगर फैक्ट्री लिमिटेड की ओर से ₹132 करोड़ का प्रोजेक्ट धरातल पर उतर रहा है। इन टॉप 5 प्रोजेक्ट से 6,150 रोजगार के अवसर सृजित होंगे।

हरदोई में टॉप 5 कंपनियों ने किया ₹2,628 करोड़ का निवेश

हरदोई में टॉप 5 बड़े निवेशों के जरिए ₹2,628 करोड़ का निवेश धरातल पर उतर रहा है। इनमें बर्जर पेंट्स इंडिया लिमिटेड की ओर से ₹800 करोड़, मेसर्स हल्दीराम स्नैक्स मैन्युफैक्चरिंग प्राइवेट लिमिटेड की ओर से ₹678 करोड़, बालाजी वैफर प्राइवेट लिमिटेड की ओर से ₹500 करोड़, ग्रीन प्लाई संडीला प्राइवेट लिमिटेड की ओर से ₹350 करोड़ रुपए और एनरबोस्टा सोलर सिस्टम प्राइवेट लिमिटेड की ओर से ₹300 करोड़ का निवेश किया गया है। इन टॉप 5 निवेश परियोजनाओं से 3,090 रोजगार के अवसर सृजित होंगे।

लखीमपुर खीरी में टॉप 5 कंपनियों ने किया ₹719 करोड़ का निवेश

लखीमपुर खीरी में टॉप 5 बड़ी परियोजनाओं के जरिए ₹719 करोड़ का निवेश धरातल पर उतर रहा है। इनमें ग्लोबस स्पिरिट लिमिटेड द्वारा इथेनॉल प्लांट में ₹200 करोड़ का निवेश, जुआरी इन्वेन बायो इनर्जी प्राइवेट लिमिटेड द्वारा ₹200 करोड़, डीसीएम श्रीराम लिमिटेड की ओर से ₹130 करोड़ रुपए, बलरामपुर चीनी मिल्स लिमिटेड की ओर से ₹102 करोड़ रुपए और एवर इन्वायरो रिसोर्स मैनेजमेंट प्राइवेट लिमिटेड की ओर से ₹87 करोड़ का निवेश किया जा रहा है। लखीमपुर खीरी में स्थापित होने वाली इन पांच बड़ी परियोजनाओं से 900 रोजगार के नये अवसर सृजित होंगे।

रायबरेली में टॉप 5 कंपनियों ने किया ₹539 करोड़ का निवेश

रायबरेली में टॉप 5 बड़ी परियोजनाओं से ₹539 करोड़ की परियोजनाएं धरातल पर उतर रही हैं। इनमें रेस्पा फार्मा प्राइवेट लिमिटेड की ओर से ₹184 करोड़, एक्वैक्स प्राइवेट लिमिटेड की ओर से ₹125 करोड़, एलीफेंट सिमेंट प्राइवेट लिमिटेड की ओर से ₹100 करोड़, कामधेनु फ्रेश मिल्क की ओर से ₹80 करोड़ और पेन्नार मेटल्स प्राइवेट लिमिटेड द्वारा ₹50 करोड़ की परियोजनाएं धरातल पर उतर रही हैं। इनसे 1,710 रोजगार के नये अवसर सृजित होंगे। औद्योगिक विकास को गति देंगे ‘सुपर 30’ प्रोजेक्ट्स