मतदाता जागरूकता अभियान पक्षियों का कल्याण

39
मतदाता जागरूकता अभियान पक्षियों का कल्याण
मतदाता जागरूकता अभियान पक्षियों का कल्याण

मतदाता जागरूकता अभियान के साथ पक्षियों का भी कल्याण। गोण्डा जनपद में शत प्रतिशत मतदान के लिए शुरू हुई अनूठी पहल ‘हर घर सकोरा अभियान’। अभियान के तहत मतदाता जागरूकता लिखे स्लोगन्स वाले मिट्टी के सकोरे घरों और ऑफिस में किए गए स्थापित। 11 अप्रैल को राष्ट्रीय पालतू पशु दिवस पर शुरू हुआ अभियान, सकोरा बुझाएगा पक्षियों की भूख और प्यास। सकोरे पर लिखे स्लोगन्स लोकतंत्र के सबसे बड़े त्योहार में मताधिकार का उपयोग करने के लिए मतदाताओं को कर रहे जागरूक। मतदाता जागरूकता अभियान पक्षियों का कल्याण

लोकसभा के आम चुनावों को देखते हुए उत्तर प्रदेश में शत प्रतिशत मतदान के लिए अनेक कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। आने वाले दिनों में भीषण गर्मी की आशंका के कारण इन कार्यक्रमों को इनोवेटिव तरीके से प्रस्तुत कर मतदाताओं को गर्मी के बावजूद मताधिकार का उपयोग करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इस क्रम में प्रदेश के गोण्डा जनपद ने भी एक अनूठी पहल की है। इस पहल के तहत लोकतंत्र के सबसे बड़े उत्सव को पक्षी कल्याण कार्यक्रम से जोड़ा गया है। 11 अप्रैल को राष्ट्रीय पालतू पशु दिवस के अवसर पर गोण्डा जिला प्रशासन ने ‘हर घर सकोरा अभियान’की शुरुआत की है। इस अभियान के तहत पूरे शहर में ऐसे मिट्टी के सकोरे स्थापित किए जा रहे हैं जिन पर मतदाता जागरूकता से संबंधित स्लोगन्स लिखे गए हैं। सकोरा पर लिखे ये स्लोगन्स न सिर्फ मतदाताओं को लोकतंत्र के सबसे बड़े पर्व पर अपने मताधिकार का उपयोग करने के लिए प्रेरित करेंगे, बल्कि पक्षियों की प्यास और भूख मिटाकर उन्हें तरोताजा रखने में भी सहायक होंगे। जिला प्रशासन की ओर से अधिक से अधिक संख्या में सकोरा को शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में स्थापित कर पक्षियों के साथ ही मतदाताओं को आकर्षित किए जाने का प्रयास हो रहा है। उल्लेखनीय है कि गोण्डा जनपद में लोकसभा चुनाव पांचवें चरण यानी 20 मई को होना है। गोण्डा में 25.30 लाख पंजीकृत मतदाता हैं, जिनमें 13.50 लाख पुरुष, 11.82 लाख महिलाएं और 94 ट्रांसजेंडर हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव में, इस चुनाव क्षेत्र में 52.2 प्रतिशत मतदान रहा था, जो कि राज्य औसत 59.21 प्रतिशत से कम था। इसी क्रम में आगामी 2024 आम चुनावों में भागीदारी बढ़ाने के लिए प्रयास जारी हैं।

मतदाता जागरूकता में नया अध्याय लिखेगा गोण्डा

जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने इस पहल के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि शहरी क्षेत्रों में, मतदाता जागरूकता संदेशों से सजे पारंपरिक मिट्टी के पॉट (सकोरा) पेड़ों पर लगाए जा रहे हैं। ये सकोरा गौरैया, तोते, कोयल, मुनिया और अन्य पक्षियों को आकर्षित करेंगे और उनकी भूख और प्यास को मिटाएंगे। सकोरा मिट्टी का एक बर्तन है जिसमें पक्षियों के लिए पानी और दाने होंगे, ताकि गर्मी के दौरान उनकी भूख और प्यास को बुझाया जा सके। इस पर लिखे स्लोगन्स मतदाताओं को भी उनकी जिम्मेदारी के प्रति जागरूक करेंगे। यह पहल गोण्डा में मतदाता जागरूकता के इतिहास में एक यादगार अध्याय लिखेगी। उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम को निर्वाचन आयोग के सिस्टमेटिक वोटर एजुकेशन एंड इलेक्टोरल पार्टिसिपेशन (स्वीप) कार्यक्रम से जोड़ा गया है। साथ ही इस पहल के माध्यम से मिट्टी के खिलौने बनाने वाले कुम्हारों और स्थानीय कलाकारों के प्रयासों को भी प्रोत्साहित किया जा रहा है।

अधिकारियों को घर, ऑफिस सकोरा स्थापित करने का निर्देश

“हर घर सकोरा अभियान, 20 मई को करें मतदान” पहल गोण्डा के पशुपालन विभाग द्वारा की गई है। डीएम/जिला निर्वाचन अधिकारी नेहा शर्मा ने जनपद मुख्यालय पर डीएम आवास के सामने इस कार्यक्रम की शुरुआत की। कार्यक्रम के दौरान उन्होंने सभी विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सभी लोग अपने ऑफिस एवं घरों के आसपास “सकोरा” अवश्य लगाएं, ताकि आने जाने वाले लोगों को “सकोरा” में लिखा हुआ स्लोगन दिखाई दे और उसके माध्यम से हमारे जनपद में अधिक से अधिक लोगों तक मतदाता जागरूकता का संदेश पहुंच सके। उन्होंने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया है कि लोकसभा सामान्य निर्वाचन – 2024 में जनपद में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए हम सब मिलकर विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित करते रहें और उसके माध्यम से जनपद के हर मतदाता को शतप्रतिशत मतदान करने हेतु जागरूक करें। आगामी 20 मई, 2024 को जनपद में होने वाले मतदान में अधिक से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करें और जनपद का नाम सर्वाधिक मतदान प्रतिशत सूची में शीर्ष पर रहे। इसके साथ ही जिलाधिकारी ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को जनपद में शतप्रतिशत मतदान करने की शपथ भी दिलाई। कार्यक्रम के दौरान राजस्व विभाग, विकास विभाग, कृषि विभाग, पंचायत विभाग, शिक्षा विभाग सहित कई अन्य विभागों के अधिकारियों ने कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। मतदाता जागरूकता अभियान पक्षियों का कल्याण