जो कभी नहीं हुआ वह अब हो रहा है-योगी

60
जो कभी नहीं हुआ वह अब हो रहा है-योगी
जो कभी नहीं हुआ वह अब हो रहा है-योगी

जो कभी नहीं हुआ, वह पीएम मोदी ने कर दिखाया। मुख्यमंत्री ने बनास काशी संकुल, यूपीसीडा एग्रो पार्क, करखियांव में लोकार्पण व शिलान्यास कार्यक्रम को किया संबोधित। 10 वर्ष में प्रधानमंत्री द्वारा काशी को 45 हजार करोड़ की परियोजनाओं की सौगात दी गई। किसानों व पशुपालकों के आधुनिक तीर्थ जैसी है बनास डेयरी। जो कभी नहीं हुआ वह अब हो रहा है-योगी

वाराणसी। दस वर्ष के अंदर हजारों करोड़ की विकास परियोजना देकर प्रधानमंत्री ने काशी को नए कलेवर के रूप में वैश्विक मानचित्र पर प्रस्तुत किया है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि आज एक बार फिर हजारों करोड़ों की इन योजनाओं को लेकर पीएम का आगमन हुआ है। साढ़े छह सौ करोड़ की लागत से बनास डेयरी बनी है। लगता है कि यह किसानों व पशु पालकों के लिए आधुनिक तीर्थ जैसी है। यह डेयरी आमदनी को बढ़ाने के साथ ही भारत की श्रद्धा को सम्मानित और संरक्षित करने का नया केंद्र बनी हुई है। सीएम ने कहा कि उप्र की उर्वरा भूमि को गो माता का आशीर्वाद देकर पीएम के मार्गदर्शन में हमारे पशुपालकों की समृद्धि के लिए कार्य प्रारंभ किया। इस बहाने गोमाता की रक्षा भी होगी और हमें पुण्य व आशीर्वाद भी प्राप्त हो जाएगा। प्रधानमंत्री जी द्वारा काशी में नए मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास होने जा रहा है।

जीवन के अलग-अलग क्षेत्रों से जुड़े तकरीबन 13 हजार करोड़ से अधिक की नई योजनाओं की सौगात मिलने जा रही है। 10 वर्ष में काशी को प्रधानमंत्री जी द्वारा 45 हजार करोड़ की परियोजनाओं की सौगात दी गईं। जो कभी नहीं हुआ, वह मोदी जी ने कर दिखाया। उन्होंने बनास काशी संकुल, यूपीसीडा एग्रो पार्क, करखियांव में शुक्रवार को आयोजित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 13,100 करोड़ से अधिक की 35 विकास परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास कार्यक्रम को संबोधित किया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने अंगवस्त्र व कामधेनु की मूर्ति देकर पीएम का स्वागत किया। उप्र में रुचि लेने पर बनास डेयरी के चेयरमैन को बधाई दी।

हर सनातन धर्मावलंबी व भारतवासी अभिभूत है

पांच सदी के बाद अयोध्या में रामलला के इंतजार को समाप्त करते हुए उनकी दिव्य मूर्ति को भव्य मंदिर में विराजमान कराने के उपरांत प्रधानमंत्री जी का काशी आगमन हुआ है। पीढ़ियां बीत गईं, युग समाप्त हो गए, लेकिन इंतजार का क्रम तब टूटा, जब मोदी जी की दूरदर्शिता, मार्गदर्शन व नेतृत्व भारत प्राप्त कर रहा है। काशी विश्वनाथ धाम के बाद अयोध्या में श्रीरामलला का विराजमान होना हर सनातन धर्मावलंबियों व भारतवासी को अभिभूत करता है।

प्रधानमंत्री ने देश को नई दृष्टि व पहचान दी है

योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश को नई दृष्टि व पहचान दी है। भारतवासी नए भारत का दर्शन कर रहे हैं। नया भारत वैश्विक मंच पर नागरिकों को सम्मान व सुरक्षा देता है तो समृद्धि का मार्ग भी प्रशस्त करता है। उनकी आस्था और आजीविका का भी ध्यान रखता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत को नई दिशा व नेतृत्व देने के साथ ही विकसित भारत के संकल्प संग देशवासियों को नए भारत के साथ जोड़ रहे हैं। बनास डेयरी के चेयरमैन शंकर भाई चौधरी ने अतिथियों का स्वागत किया। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री व चंदौली के सांसद महेंद्र नाथ पांडेय, उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष चौधरी भूपेंद्र सिंह, योगी सरकार के मंत्री अनिल राजभर, जयवीर सिंह, रवींद्र जायसवाल, दयाशंकर मिश्र ‘दयालु’, गिरीश चंद यादव, विधायक डॉ. नीलकंठ तिवारी, सौरभ श्रीवास्तव, विधान परिषद सदस्य हंसराज विश्वकर्मा आदि मौजूद रहे। जो कभी नहीं हुआ वह अब हो रहा है-योगी