स्वागत को राम नामी चोले में सरोबार हुई अयोध्या

मुख्य अतिथि के स्वागत को राम नामी चोले में सरोबार हुई अयोध्या पीएम के स्वागत को राह निहार रहे अयोध्या वासी

राम जनम यादव

अयोध्या, रामनामी चोले में सरोबार हुई अयोध्या में बनवास से लौटे भगवान प्रभु श्रीराम के राज्याभिषेक के नजारे की याद ताजा दिला रही है। अयोध्या में हर तरफ मठ मंदिरों में राम धुन के भजन संकीर्तन गुंजायमान हो रहे हैं तो जुड़वा नगरी पीले वस्त्र ओढ़ कर मुख्य अतिथि के स्वागत को आस देख रही है। वही दूसरी तरफ देश की नामी गिरामी हस्तियां अयोध्या में पदार्पण कर यहां की शोभा में चार चांद लगा रही हैं।  पूरी अयोध्यापूरी के नर नारी मेहमान साधु संत ज्ञानी बैरागी सियासत के ब्रम्हा बिष्णु महेश अपने प्रधानमंत्री के स्वागत को एक टक आने को बेशब्री से टक टकी लगाये निहार रहे हैं ।ऐसे जैसे बनवास से लौटते राम लक्ष्मण सीता कोअयोध्यापुरी के नर नारी निहार रहे थे। उनके दर्शन को व्याकुल थे वैसे ही अयोध्या का नजारा मौके पर बना हुआ है।

मुख्य अतिथि की सुरक्षा को देश की सभी सरकारी सुरक्षा एजेंसियां पूरी तरह सतर्क व एलर्ट हैं। राम मय में गुंजायमान अयोध्या की सुरक्षा आतंकी खतरों जैसी संभावनाओं को लेकर सख्त एवं कड़ी सुरक्षा पहरे में है। जुड़वां शहरों में दीपोत्सव एवं दीवाली जैसा नजारा अपनो में चमत्कार और उल्लास जैसा है।सियासत के देवताओ की चहल कदमी पर कोरोना का साया अपना प्रभाव बनाये हुये हैं।इस लिए कार्यक्रम में आमंत्रण पत्र पाये कई धुरंधरो के कार्यक्रम में आने को बुढ़ापाआड़े हाथों आ रहा है।लालकृष्ण आडवाणी , मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह ,जैसे कट्टर हिन्दूवादी नेता से जवानी में सियासत के बड़े बड़े दिग्गज थर्राते थे । ऐसे नेताओ को अयोध्या आगमन में बुढ़ापा व कोरोना आड़े हाथों आ रहा है। जिनकी आखरी ख्वाहिश पर बुढ़ापे व कोरोना ने पानी फेर दिया।