आई0आर0सी0 के 81वें वार्षिक अधिवेशन को सफल बनाना हम सबकी जिम्मेदारी-जितिन प्रसाद

लोक निर्माण मंत्री जितिन प्रसाद ने आई0आर0सी0 (भारतीय रोड कॉग्रेस) के 81वें वार्षिक अधिवेशन की तैयारियों के सम्बन्ध में विभागीय अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक।आई0आर0सी0 के 81वें वार्षिक अधिवेशन को सफल बनाना हम सबकी जिम्मेदारी।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री जितिन प्रसाद ने कहा कि लखनऊ में आयोजित होने जा रहे, आई0आर0सी0 के 81वें वार्षिक अधिवेशन को सफल बनाना हम सबकी जिम्मेदारी है। कार्यक्रम के सफल आयोजन हेतु समय रहते समस्त तैयारियां पूरी कर ली जांय, कार्यक्रम आयोजन में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं मिलनी चाहिये। जितिन प्रसाद यह निर्देश आई0आर0सी0 (भारतीय रोड कॉग्रेस) के 81वें वार्षिक अधिवेशन की तैयारियों के सम्बन्ध में लोक निर्माण विभाग मुख्यालय स्थित तथागत सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में विभागीय अधिकारियों को दिये।


उल्लेखनीय है कि आई0आर0सी0 के 81वें वार्षिक अधिवेशन का आयोजन अगामी 08 से 11 अक्टूबर 2022 के मध्य इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान, लखनऊ में किया जायेगा, जिसमें देश एवं विदेश के मार्ग विशेषज्ञ, वैज्ञानिक व शीर्षस्थ अभियन्ता भी सम्मिलित होंगे। भारतीय सड़क कांग्रेस (आई0आर0सी0) देश में राजमार्ग एवं सेतुओं के निर्माण से सम्बन्धित वैज्ञानिकों एवं अभियन्ताओं की एक शीर्ष संस्था है, जो कि राजमार्ग/सेतुओं के निर्माण से सम्बन्धित मानकों, विशिष्टियों आदि का निर्धारण/पुनर्निर्धारण करती है। इस प्रक्रिया हेतु प्रतिवर्ष देश के चयनित स्थानों पर अधिवेशन/वार्षिक सत्र का आयोजन किया जाता है, जिसमें सम्मिलित होने वाले विशेषज्ञ, वैज्ञानिक, अभियन्ताओं के मध्य विशिष्टियों/नई तकनीकियों पर चर्चा एवं विचार विमर्श होते हैं।


आई0आर0सी0 के इतिहास में लोक निर्माण विभाग, उत्तर प्रदेश को लखनऊ में दो वार्षिक सत्र आयोजित करने का अवसर प्राप्त हुआ था। आई0आर0सी0 का पहला स्वर्ण जयंती कार्यक्रम फरवरी 1985 तथा दूसरा कार्यक्रम नवम्बर 2011 में लखनऊ में आयोजित किया गया था। भारतीय सड़क कांग्रेस का 81वां वार्षिक अधिवेशन सिग्नेचर इवेन्ट दो वर्ष के अंतराल के बाद आयोजित किया जा रहा है। अधिवेशन के सफल आयोजन हेतु राज्य संचालन समिति के साथ अन्य विभिन्न गतिविधिओं हेतु 16 समितियों का गठन किया गया है। आज की समीक्षा बैठक में उक्त समस्त समितियों के द्वारा प्रस्तावित कार्यवाहियों आदि के सम्बन्ध में व्यापक चर्चा की गयी एवं आवश्यक निर्देश दिये गये।


प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग नरेन्द्र भूषण ने लोक निर्माण मंत्री को आश्वासन दिया कि दिये गये निर्देशों का प्राथमिकता के आधार पर शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित कराया जायेगा। लोक निर्माण राज्यमन्त्री बृजेश सिंह, विशेष सचिव लोक निर्माण विभाग प्रभुनाथ एवं कामता प्रसाद, प्रमुख अभियन्ता (विकास) एवं विभागाध्यक्ष संदीप कुमार, प्रमुख अभियन्ता (परिकल्प एवं नियोजन) अरविन्द कुमार (जैन), प्रबन्ध निदेशक राजकीय निर्माण निगम संजय तिवारी, प्रबन्ध निदेशक सेतु निगम, संजीव भारद्वाज, मुख्य अभियन्ता संजय श्रीवास्तव, जे0के0 बांगा, अशोक कनौजिया सहित मुख्यालय स्थित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।