1500 पीठासीन एवं मतदान अधिकारियों को मतदान प्रशिक्षण

94

अयोध्या। जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी पंचायत अनुज कुमार झा ने साकेत महाविद्यालय में मतदान प्रशिक्षण ले रहे द्वितीय बैच के 1500 पीठासीन एवं मतदान अधिकारियों को चुनाव प्रक्रिया को सकुशल एवं भयमुक्त एवं निष्पक्ष सम्पन्न कराने के बारे में विस्तार से बताये हुये कहा कि आप सभी पीठासीन डायरी को भली भांति पढ़ ले और उसके अनुसार मतदान प्रक्रिया को आगे बढ़ायेंगे तो आपके सामने कोई समस्या नही आयेगी। फिर भी यदि कोई समस्या आपके समक्ष आती है तो आप कन्ट्रोल रूम से सम्पर्क कर उसका समाधान करा सकते है।

उन्होंने प्रशिक्षण ले रहे पीठासीन एवं मतदान अधिकारियों को बताया कि कोविड-19 की द्वितीय लहर चल रही है। इससे सभी को सुरक्षित रहते हुये चुनाव प्रक्रिया को सम्पन्न कराना है। कोविड प्रोटोकाल एवं गाइडलाइन के तहत आप सभी पूरे टाइम मास्क पहनने के साथ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है। मतदान प्रारम्भ होने से पूर्व की प्रक्रिया के बारे में उन्होंने बताया कि मतदान आरम्भ होने से कम से कम 20 मिनट पहले मतदान स्थल पर पहुंचे।

अभिकर्ता बनाने की प्रक्रिया को पूरी करें तत्पश्चात अभिकर्ता के सामने मत पेटी को बताये गये नियम के अनुसार उसे सील करें तथा मतदान प्रारम्भ करते समय उसकी घोषणा करें तथा पीठासीन अधिकारी उस घोषणा का डायरी में अंकन भी करें। मतदान प्रातः 7 बजे से सायं 6 बजे तक होगा। अभी आपके पास 7 दिन का समय है यदि आपको मतदान प्रक्रिया सम्पन्न कराने मे कोई शंका हो तो उसे प्रशिक्षण देने वाले अधिकारियों से मिलकर दूर करा लें।

कोविड का द्वितीय बेब आ रहा है इसके प्रति भी सावधान रहकर स्वयं को पूरी तरह सुरक्षित रहते हुये डियुटी करनी है। सेनेटाइजर को हमेशा अपने पास रखे तथा मास्क पहने व दो गज की दूरी बनाये रखे। कुछ भी खाने पीने से पहले पूरी सुरक्षा बरतें। आपकी पारदर्शिता ही महत्वपूर्ण भूमिका होगी सब कुछ निष्पक्षता के साथ करें। किसी के भी दबाव में न आयें। यदि किसी को कोई संदेह है तो उसे सबके सामने दूर करें। समय से वोटिंग प्रारम्भ करायें तथा सायं 6 बजे के बाद लाइन में लगे मतदाताओं को पीठासीन अधिकारी अपने हस्ताक्षरयुक्त टोकन लाइन के पीछे से देना प्रारम्भ करें ताकि लाइन में कोई अन्य मतदाता लगने न पायें।

जिलाधिकारी ने सभी सेक्टर एवं जोनल मजिस्टेªट को हर मतदान स्थल पर कोविड डेस्क बनाने के निर्देश दिये है। बिना मास्क पहने कोई भी मतदाता मतदान कक्ष के अंदर प्रवेश नही करने पायेगा। प्रशिक्षण के दौरान नोडल अधिकारी कार्मिक/मुख्य विकास अधिकारी अनिता यादव, परियोजना निदेशक/प्रभारी अधिकारी प्रशिक्षण आरपी सिंह, प्राचार्या डायट साधना श्रीवास्तव आदि सभी ने प्रशिक्षण के बारे में विस्तार से बताया।