माफिया कोई भी हो उसे औकात में रखा-योगी

32
माफिया कोई भी हो उसे औकात में रखा-योगी
माफिया कोई भी हो उसे औकात में रखा-योगी

जब सांसद था,तब भी माफिया को मार-मारकर दौड़ाता था। मुख्यमंत्री ने डुमरियागंज लोकसभा सीट से जगदंबिका पाल को फिर जिताने की अपील की। सपा पर बरसे योगी ने कहा- माफिया कोई भी हो, हमने उसे औकात में रखा। सपा शासन में विशुनपुर में दो यादव मारे गए थे, लेकिन एफआईआर तक दर्ज नहीं हो रही थी तब गोरखपुर से आकर मुकदमा दर्ज करवाया। राम मंदिर को बेकार कहने वालों की जमानत जब्त होनी चाहिए। माफिया कोई भी हो उसे औकात में रखा-योगी

हिमांशु दुबे

सिद्धार्थनगर। सपा सरकार के समय प्रदेश के सभी गुंडे-माफिया एकजुट होकर सरकार में शामिल होते थे और प्रदेश को लूटते थे। अनाचार व अव्यवस्था फैली थी। बेटी-व्यापारी असुरक्षित थे। गरीब भूख से मरता था, किसान आत्महत्या करता था, नौजवान पलायन करता था। सपा का था एक ही नारा था, खाली प्लॉट पर कब्जा हमारा। इनके कब्जों को हटाने, माफिया और गुंडों को ठीक करने के लिए हमने बुलडोजर दिया। मैं जब गोरखपुर में सांसद था तो अकेले माफिया को चैलेंज करता था। गोरखपुर में इन्हें मार-मारकर दौड़ाता था। व्यापारियों से कहता था कि जूता-चप्पल लेकर इन्हें दौड़ाओ। 1996 से हमने गोरखपुर में एक भी व्यापारी से रंगदारी वसूली नहीं होने दी। माफिया कोई रहा भी, उसे औकात में रखा। इसलिए गोरखपुर का विकास हुआ और अब ऐसा लगता है कि बाबा गोरक्षनाथ साक्षात प्रकट होकर इस नगरी को आशीर्वाद दे रहे हैं। यही हाल अयोध्या का भी है। उन्होंने गोपाल कृष्ण गोखले शिक्षा सदन शोहरतगढ़ सिद्धार्थनगर में जनसभा को संबोधित किया। यहां उन्होंने डुमरियागंज के सांसद व लोकसभा प्रत्याशी जगदंबिका पाल को फिर से सदन में भेजने की अपील की।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सपा के समय दंगे होते थे। शोहरतगढ़ हो या डुमरियागंज, इटवा हो या कपिलवस्तु, कपिलवस्तु के विशुनपुर में दो यादव मारे गए थे। सपा सरकार में एफआईआर तक दर्ज नहीं हो रही थी तब मैं गोरखपुर में सांसद था और वहां से आकर एफआईआर करवाया था। डुमरियागंज में दिव्यांग बालिका से दुराचार हुआ था, तब सपा के लोग बेशर्मी से आरोपियों को बचा रहे थे। हमने तब भी आंदोलन कर परिवार को न्याय दिलाया था, लेकिन आज कोई दुराचारी अनाचार नहीं कर सकता। उसे पता है कि बेटी-व्यापारी और राहगीर की सुरक्षा पर खतरा हुआ तो शाम तक उसकी रामनाम सत्य की यात्रा भी निकल जाएगी। गोरखपुर से एक माफिया को लोगों ने लात मारकर भगाया है। अब वह यहां से आकर चुनाव लड़ रहा है। उसके साथ कोई भी शरीफ नहीं होगा, बल्कि सभी माफिया और गुंडे होंगे। यह लोग जनता की गाढ़ी कमाई पर डकैती डालते हैं। सैकड़ों करोड़ रुपये इन लोगों ने खुर्द-बुर्द कर दिया, पैसा ही गायब हो गया। इनके काले कारनामों के कारण पिछले दिनों सीबीआई और ईडी ने छापेमारी कर संपत्ति जब्त की। यह पेशेवर माफिया हैं। गरीबों का खून चूसते हैं, व्यापारी का उत्पीड़न करते हैं और शरीफों का जीना दुश्वार करते हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि इन गुंडों और माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई कर हम आमजन को सुरक्षा प्रदान करते हैं। इन्हें किसी भी महत्वपूर्ण पद पर भेजकर भस्मासुर न पैदा करें। देश का भविष्य और वोट आपका, फैसला आपका, इसलिए आपको ही भावी पीढ़ी का भविष्य तय करना है। एक भी अपराधी, माफिया-गुंडा, देशद्रोही, रामद्रोही को आपका वोट नहीं मिलना चाहिए। स्वाभिमानी समाज माफिया व अपराधी को चुनकर भेजता है तो भावी पीढ़ी को अंधकारमय करता है। भाजपा शासन में विकास की देन है कि शोहरतगढ़ से गोरखपुर, बलरामपुर मार्ग, बढ़नी समेत सभी मार्ग चलने लायक हो गया है। भाजपा के अध्यक्ष रहे माधव प्रसाद त्रिपाठी के नाम पर सिद्धार्थनगर में मेडिकल कॉलेज बना। गोरखपुर में एम्स, फर्टिलाइजर शुरू हुआ। कपिलवस्तु को भी विकसित किया जा रहा है। अब पटाखा फूटने पर पाकिस्तान कहता है कि मैंने नहीं किया है। भय बिन होई न प्रीति, पाकिस्तान जैसे टेढ़े पड़ोसी के लिए अंगुली टेढ़ी करनी ही पड़ती है। भारत से पाकिस्तान कांपता है, लेकिन रामद्रोही कहते हैं कि पाकिस्तान को मत बोलो, उसके पास एटम बम है तो हम कहते हैं कि घबराइए मत, पाकिस्तान से बड़ा एटम बम हमारे पास है। एक झटके में स्वाहा हो जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि रामभक्त एक साथ आ गए हैं और रामद्रोही भी एकजुट हो गए हैं। रामभक्तों की पहचान है कि वे देश का सम्मान बढ़ाएंगे। इससे सबका सम्मान बढ़ेगा। रामभक्त देश को सुरक्षित रखते हैं तो आप भी सुरक्षित हो जाते हैं। रामभक्तों ने आतंकवाद व नक्सलवाद का खात्मा किया। राम भक्तों पर गोली चलाने वाले सपा के गुंडे राम मंदिर नहीं बनवा पाते। यह आज भी राम मंदिर का विरोध कर रहे हैं। यह कह रहे हैं कि राम मंदिर बेकार बना है। राम मंदिर को बेकार कहने वालों की बुद्धि भ्रष्ट हो गई है। ऐसी टिप्पणी करने वालों की जमानत चुनाव में जब्त कराइए, क्योंकि जो राम का नहीं, वो हमारे किसी काम का नहीं। रामद्रोहियों को विकास से कोई मतलब ही नहीं है। यह सत्ता में आने पर पिछड़ों का हक मुसलमानों को देंगे। सत्ता में आने पर पर्सनल लॉ लाकर तालिबानी शासन लाएंगे। हिंदुस्तान में तालिबानी शासन स्वीकार नहीं है। सत्ता में आएंगे तो आपकी प्रॉपर्टी पर विरासत टैक्स लगाएंगे, यह स्वीकार नहीं है।इस अवसर पर प्रदेश सरकार के मंत्री राकेश सचान, डुमरियागंज के सांसद व लोकसभा प्रत्याशी जगदंबिका पाल, भाजपा जिलाध्यक्ष कन्हैया पासवान, विधायक जयप्रताप सिंह, श्यामधनी राही, विनय वर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष शीतल सिंह, पूर्व विधायक जिप्पी तिवारी, राघवेंद्र प्रताप सिंह आदि मौजूद रहे। माफिया कोई भी हो उसे औकात में रखा-योगी