प्रमाणपत्र वापस न मिलने से युवक चढ़ा चौथी मंजिल पर, दी जान देने की धमकी

इंस्टीट्यूट से मूल प्रमाणपत्र वापस नहीं मिलने से नाराज युवक चढ़ा चौथी मंजिल पर, दी जान देने की धमकी।

अजय सिंह

कानपुर। मंगलवार दोपहर कल्याणपुर क्षेत्र के लखनपुर स्थित द पनेशिया पैरामेडिकल साइंसेज एंड नर्सिंग इंस्टीट्यूट की चौथी मंजिल पर चढ़े छात्र ने खुदकुशी की धमकी। यह हाईवोल्टेज ड्रामा साढ़े चार घंटे तक चलता रहा। सूचना पर एसीपी कल्याणपुर और फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची तब उसे नीचे उतारा गया।

कन्नौज जनपद के ठठिया अंतर्गत गयादीनपुरवा गांव निवासी रामनरेश का बेटा प्रांशू ओटी टेक्नीशियन का काेर्स कर रहा है। यह फाइनल इयर का छात्र है। उसका आरोप है कि इंस्टीट्यूट प्रबंधन ने दो साल पहले उसके हाईस्कूल के मूल अंकपत्र जमा करवा लिए थे। वह एक साल से चक्कर लगा रहा है लेकिन प्रबंधन उसके अंकपत्र वापस नहीं कर रहा है। मंगलवार दोपहर करीब एक बजे वह इंस्टीट्यूट पहुंचा और चौथी मंजिल पर चढ़कर दरवाजा बंद करने के बाद टेरिस पर आकर अंकपत्र न मिलने पर आत्महत्या की धमकी दी। कॉलेज प्रशासन ने कल्याणपुर पुलिस को सूचना दी।

एसीपी कल्याणपुर दिनेश कुमार शुक्ला ने छात्र के पिता को सूचना दी। साढ़े चार घंटे की मशक्कत के बाद शाम 5 बजकर 30 मिनट पर इंस्टीट्यूट प्रबंधन के लिखित आश्वासन के बाद ही छात्र प्रांशु नीचे उतरा। इस दौरान उसकी हालत बिगड़ गई और उल्टियां होने लगी इसके बाद उसे डाक्टर के पास ले जाया गया। एसीपी दिनेश कुमार शुक्ला ने बताया कि प्रधानाचार्य ने इंस्टीट्यूट के लेटरहेड पर लिखित रूप से उसके हाईस्कूल के अंकपत्र पर दिलवाने का आश्वासन दिया है।

फ़िलहाल प्रधानाचार्य डा. दीप्ति तिवारी ने बताया कि उन्होंने तीन महीने पहले ही कार्यभार संभाला है। इससे पूर्व यहां सुजाता सैनी प्रधानाचार्य थीं, जो करीब 40 छात्रों के मूल अंकपत्र , इंस्टीट्यूट के महत्वपूर्ण दस्तावेज ले गई थीं। उन्होंने छात्र-छात्राओं की फीस का भी धोखाधड़ी करके गबन किया था। इस मामले में तीन के खिलाफ कल्याणपुर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी।