‘सीप के मोती’ एवं ‘द अनसंग वर्सेज’ का लोकार्पण

सी.एम.एस. छात्रा द्वारा लिखित पुस्तक का लोकार्पण किया डा. जगदीश गाँधी ने …..


लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल के संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने आज सी.एम.एस. के नवनिर्मित प्रधान कार्यालय में आयोजित एक समारोह में अपने ही विद्यालय की छात्रा सुलक्षणा मिश्रा की पुस्तक ‘सीप के मोती’ एवं ‘द अनसंग वर्सेज’ का लोकार्पण किया। ये दोनों पुस्तकें क्रमशः हिन्दी व अंग्रेजी भाषा में काव्य संग्रह हैं। इस अवसर पर सी.एम.एस. के पूर्व छात्र व पी.सी.एस. अधिकारी दिव्यांशु पाण्डेय समेत कई प्रबुद्धजन उपस्थित थे। इस अवसर पर डा. गाँधी ने श्रीमती सुलक्षण को आशीर्वाद देते हुए कहा कि सी.एम.एस. छात्रा की ये पुस्तकें युवा पीढ़ी के लिए संजीवनी की तरह है जो उन्हें जीवन में आगे बढ़ने को निरन्तर प्रेरित करती रहेगी। इस प्रेरणादायी पुस्तक के माध्यम से सुलक्षणा ने छात्रों व युवाओं का बहुत अच्छी तरह से मार्गदर्शन किया है।


सुलक्षणा मिश्रा सी.एम.एस. गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) की छात्रा रही हैं और यहीं से उच्चअंकों के साथ आई.एस.सी. की परीक्षा उत्तीर्ण की। विज्ञान की छात्रा होने के बावजूद साहित्य में इनकी गहरी रूचि है एवं हिन्दी व अंग्रेजी दोनों भाषाओं में धाराप्रवाह कविता व कहानी लेखन करती हैं। पुस्तक लोकार्पण के उपरान्त एक अनौपचारिक वार्ता में सुलक्षणा ने बताया कि सी.एम.एस. गोमती नगर की वरिष्ठ प्रधानाचार्या मंजीत बत्रा मेरी रोल मॉडल है, जिन्होंने मुझे सदैव अपने सपनों को पूरा करने का हौसला दिया। उन्होंने विद्यालय के वर्तमान छात्रों को संदेश देते हुए ‘समय प्रबन्धन’ पर विशेष ध्यान देने का सुझाव दिया।श्रीमती सुलक्षणा वर्तमान में स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया के स्थानीय प्रधान कार्यालय में प्रबन्धक के पद अपनी सेवायें प्रदान कर रही हैं।