डीएम और सीडीओ को सख्त निर्देश निर्माण कार्यों को जल्द से जल्द पूरा करें

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन की राज्य स्तरीय इम्पावर्ड कमेटी की बैठक आयोजित।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र की अध्यक्षता में श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन की राज्य स्तरीय इम्पावर्ड कमेटी की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में 16 जनपदों के सीडीओ तथा डीएम वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से उपस्थित थे।  मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिन जिलों में धीमी गति से कार्य चल रहा है उन जिलों के डीएम और सीडीओ को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि  निर्माण कार्यों को जल्द से जल्द पूरा किया जाये तथा निर्माण कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाए। उन्होंने इसके लिए सतत् अनुश्रवण एवं स्थलीय निरीक्षण करने के भी निर्देश दिये।

           बैठक के दौरान ग्राम्य विकास आयुक्त जीएस प्रियदर्शी ने रूर्बन मिशन के कार्यक्रमों  एवं उनकी अद्यतन प्रगति से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि योजनांतर्गत 348.45 करोड़ रूपये के कार्य कराये जा चुके हैं। इस योजना को तीन फेज में लान्च किया गया है, जिसमें कुल 16 जिले और 19 क्लस्टर हैं। 16 जनपदों फिरोजाबाद, चित्रकूट, गौतमबुद्धनगर, लखनऊ, गाजियाबाद, कुशीनगर, मिर्जापुर, प्रयागराज, वाराणसी, सोनभद्र, बागपत, बरेली, श्रावस्ती, आगरा, महोबा और बहराइच जिलों में यह योजना संचालित है। केंद्र सरकार की ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा संचालित श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन योजना की शुरुआत 2017-2018 से की गई है। इस योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र में स्थानीय आर्थिक विकास को प्रोत्साहन देना, आधारभूत सेवाओं में वृद्धि करना और सुव्यवस्थित रूर्बन क्लस्टरों का सृजना करना है।बैठक में अपर मुख्य सचिव पंचायती राज एवं ग्राम्य विकास सहित संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण आदि उपस्थित थे।