एक-एक पाई का हिसाब लेंगे-योगी

33
एक-एक पाई का हिसाब लेंगे-योगी
एक-एक पाई का हिसाब लेंगे-योगी

रामलला की जमीन हो या गरीब की, कोई कब्जा नहीं कर पाएगा। मुख्यमंत्री ने पीलीभीत लोकसभा क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार जितिन प्रसाद व बरेली से प्रत्याशी छत्रपाल सिंह गंगवार के पक्ष में की जनसभा। अब भारत का कोई भी नागरिक जम्मू-कश्मीर में जमीन खरीद सकता है। सुरक्षा में सेंध लगाने वाला जेल बाद में जाएगा, पहले जहन्नुम के रास्ते तैयार हैं। दंगा भी कराएंगे और किसी पार्टी से जाकर जबर्दस्ती फतवा जारी कर अव्यवस्था पैदा करेंगे, अब यह नहीं होगा। एक-एक पाई का हिसाब लेंगे-योगी

बहेड़ी (बरेली)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि रामलला की भूमि हो या किसी गरीब-व्यापारी और सामान्य नागरिक की जमीन। जो भी भूमाफिया सार्वजनिक जमीनों पर कब्जा करेगा। उसे लेने के देने पड़ेंगे। उससे ब्याज सहित वसूली होगी। उनकी संपत्तियों पर गरीबों के लिए वैसे ही आवास बनाएंगे, जैसे प्रयागराज में बनाया था। जब एक जैसी सरकारें होती हैं, अच्छे लोग चुनकर जाते हैं तो परिणाम भी अच्छा ही आता है। आपने कमल को वोट दिया तो विकास और सुरक्षा भी हो रही है। हमने सुरक्षा का बेहतर वातावरण दिया है। उन्होंने शनिवार को पीलीभीत लोकसभा क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशी व प्रदेश सरकार के मंत्री जितिन प्रसाद व बरेली से भाजपा उम्मीदवार छत्रपाल सिंह गंगवार के पक्ष में जनसभा कर उन्हें चुनाव जिताने की अपील की। सीएम ने बैसाखी की बधाई दी।

भारत का कोई भी नागरिक अब जम्मू-कश्मीर में जमीन खरीद सकता है

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि कांग्रेस ने वंचित कर दिया था पर अब भारत का कोई भी नागरिक जम्मू-कश्मीर में जाकर जमीन खरीद सकता है। पिछली सरकारें कर्फ्यू लगाती थीं। दंगा पॉलिसी के लिए कुख्यात थीं। दूसरी तरफ यूपी में पिछले सात वर्ष में कोई दंगा नहीं हुआ। नो कर्फ्यू-नो दंगा, यूपी में है सब चंगा। सीएम ने कहा कि बरेली में पहले हर महीने दंगा होता था, आज दंगाई जान की भीख मार रहे हैं। उन्हें पता है कि ऐसा करने पर उल्टा टंगवा दिए जाएंगे। अब यह नहीं हो पाएगा कि दंगा भी कराएंगे और किसी पार्टी से जाकर जबर्दस्ती फतवा जारी कर अव्यवस्था पैदा करेंगे। कांग्रेस, सपा व बसपा के समय लगातार दंगे पर दंगे होते थे। जो लोग पहले आम जनता, बेटियों-व्यापारियों की जान के खतरे थे, आज वे जान की भीख मांगे फिर रहे हैं। कुछ लोग पहले ही कर्मों की सजा पा चुके हैं। कुछ लोग भयभीत होकर जहन्नुम की यात्रा पर जा रहे हैं।

पिछली सरकारें किसानों के परिश्रम की कीमत नहीं समझती थीं

योगी ने कहा कि यहां का परिश्रमी किसान अपने पुरुषार्थ से धरती माता से सोना उगलकर देश का पेट भरता है। पिछली सरकारों ने उसके परिश्रम की कीमत नहीं समझी। बड़ेड़ी इतिहास के परिवर्तन की धरती है। बहुत बार बहेड़ी का निर्णय कौतूहल व आश्चर्य का विषय बनता है। मुझे बहेड़ी आकर काफी अच्छा लगा। बहेड़ी में ही मेगा फूड पार्क का काम हो रहा है।

यूपी के लोगों को सुविधा प्रदान करना मेरा दायित्व

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि जिसके पास आयुष्मान कार्ड नहीं है और वह बीमार हो गया। ऐसी स्थिति में सांसद-विधायक या पीड़ित एक पत्र लिख देता है तो तत्काल जिले से रिपोर्ट मंगाकर उसके खाते में पैसा भेज दिया जाता है। जो भी प्रदेश का नागरिक है, उसे सुविधा प्रदान करना मेरा दायित्व है। यूपी में कहीं मेगा फूड पार्क तो कहीं आईटी पार्क बन रहा है। विकास की परियोजनाएं लाकर नौजवानों की आजीविका का प्रबंध हो रहा है।

एक-एक पाई का हिसाब लेंगे, किसी का पैसा डूबेगा नहीं

योगी ने कहा कि बहेड़ी के मतदाताओं को आश्वस्त करता हूं कि सात वर्ष में हम लोगों ने किसानों की गन्ना व चीनी मिल की समस्या को समाप्त करने का भरपूर प्रयास किया। 120 चीनी मिलें हम चला रहे हैं। 105 मिलें एक सप्ताह के अंदर भुगतान कर रही हैं। 15 मिलों का भुगतान लेट है। हमने अब तक ढाई लाख करोड़ का गन्ना भुगतान किसानों को किया है। सात वर्ष में ढाई लाख करोड़, जबकि कांग्रेस, सपा-बसपा के 22 साल के कार्यकाल में भी नहीं कर पाए। जो मिलें समय से भुगतान नहीं करेंगी, हम किसानों को उसका मालिक बनाएंगे। किसान ही वहां को-ऑपरेटिव बनाकर मिलों को संचालित करेगा। एक-एक पाई का हिसाब लेंगे, किसी का एक पैसा डूबेगा नहीं। हम समस्या नहीं, समाधान पर विश्वास करते हैं।इस अवसर पर बरेली के सांसद संतोष गंगवार, प्रदेश सरकार के मंत्री राकेश सचान, डॉ. अरुण कुमार सक्सेना, बलदेव सिंह औलख, बरेली से भाजपा प्रत्याशी छत्रपाल सिंह गंगवार, पीलीभीत से उम्मीदवार जितिन प्रसाद, विधायक एमपी आर्य, डीसी वर्मा, कुंवर महराज सिंह, विधान परिषद सदस्य प्रांशु दत्त द्विवेदी आदि मौजूद रहे। एक-एक पाई का हिसाब लेंगे-योगी