प्रदेश में एक रात बाद विकास का पुनः सूर्योदय

123
उत्तरप्रदेश- भाजपा ने सहयोगी दलों के साथ समर्थन पत्र राज्यपाल को सौंपा

उत्तर प्रदेश में बस एक रात बाद विकास का पुनः सूर्योदय होने जा रहा है. 2017 से 2022 तक उत्तर प्रदेश में योगीराज के रूप में रामराज की स्थापना हुई जिसमें जनता का चहू और विकास हुआ. कोविड-19 के दौरान भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनता का भरपूर सहयोग किया सहयोग ही नहीं कोरोना का निदान के लिए टीकाकरण भी सभी को निशुल्क मुहैया कराया. उत्तर प्रदेश की जनता ने फिर योगीराज में आस्था जताते हुए उन्हें पुनः सिंहासन पर विराजमान किया.इस बार योगी का कार्य क्षेत्र और आगे बढ़ेगा क्योंकि अब जनता की अपेक्षाएं अपने राजा से अधिक हो गई. प्रथम कार्यकाल के दौरान योगी जी ने उत्तर प्रदेश में रामराज की स्थापना की अब योगी जी को इसी रामराज को विकास के पथ पर सबके साथ सबका विकास सबका विश्वास और सबका प्रयास की अवधारणा को रखते हुए उत्तर प्रदेश में विकास की गंगा बहानी है.

योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में लगभग 40 उद्योग पतियों को आमंत्रित किया गया. इन उद्योगपतियों का आमंत्रण सिर्फ शपथ ग्रहण समारोह तक ही नहीं है इन्हें उत्तर प्रदेश की इकोनॉमी को आगे बढ़ाने के लिए जिम्मेदारी भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शपथ के बाद सौंपने वाले हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश की इकोनॉमी को वन ट्रिलियन डॉलर से आगे ले जाने की शपथ है उस शपथ को उद्योग पतियों के साथ ही आगे बढ़ा जा सकता है. एक हमारे बुजुर्गों ने कहावत कही थी भूखे भजन न होय गोपाला अर्थात उत्तर प्रदेश में योगी राज में कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं है सबका पेट तृप्त और भरे पेट वह नई दिशा की सोचता है और लगातार आगे बढ़ रहा है वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट के तहत जनपद के 1 उद्योग को बढ़ावा मिला. वहीं युवाओं को छोटे-छोटे लोन उपलब्ध कराकर योगी मोदी की नीतियों ने युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने की ओर अग्रसर किया है. उत्तर प्रदेश की धरती पर लगभग 37 सालों बाद 25 मार्च को शाम 4:00 बजे शपथ के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इतिहास रचाएंगे. यह 4:00 बजे का समय उत्तर प्रदेश के इतिहास में स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाएगा और उत्तर प्रदेश का सूर्योदय प्रारंभ हो जाएगा……

योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में डबल इंजन की सरकार के कारण उनकी मंशा के अनुरूप कार्यप्रणाली अपनाकर हम लोगों ने कार्य शुरू किए, और उत्तर प्रदेश में पहले पांच वर्ष के कालखंड में जबकि कोरोना जैसी महामारी भी थी हम जनता जनार्दन के प्रति अपनी जवाबदेही पूरी कर पाए.उसी के बदले जनता ने जाति, मजहब और कुशासन को नकारकर फिर से प्रचण्ड बहुमत देकर हमे सुशासन और विकास के उन कार्यों को और आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी सौंपी है।उत्तर प्रदेश तो प्रकृति और परमात्मा का प्रदेश है यहां सब कुछ संभव है. दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता प्रधानमंत्री मोदी जी का मार्गदर्शन हमे निरंतर प्राप्त होता है.मुझे आज एक बार फिर से उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी निर्वाहन करने का अवसर मिला है, इसके लिए मैं केन्द्रीय पर्यवेक्षक के रूप में मौजूद देश के गृहमंत्री अमित शाह जी, उनके साथ रघुवर दास जी का आभार प्रगट करता हूँ. जो जिम्मेदारी मुझे मिली है उसके लिए बिना डिगे पूरी तन्मयता और समर्पण भाव से हम लोग कर्तव्य पूरा करेंगे.