सीएमओ कार्यालय में एकीकृत कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर की स्थापना-जिलाधिकारी


प्रतापगढ़, जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार ने शासन के आदेशानुसार जनपद में एकीकृत कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर की स्थापना मुख्य चिकित्साधिकारी के कार्यालय में करते हुये अधिकारी कर्मचारी की ड्यूटी लगायी है। स्थापित एकीकृत कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर के कुशल संचालन हेतु ड्यूटी 03 शिफ्टों में लगाई गयी है जिसमें प्रशासन एवं चिकित्सा विभाग के कार्मिकों को तैनात करते हुये जनपद स्तरीय अधिकारियों को शिफ्टवार पर्यवेक्षण अधिकारी के रूप में तैनात किया गया है।

कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर में अपर जिलाधिकारी ;वि0ध्रा0द्ध शत्रोहन वैश्य मोबाइल नम्बर 9454417591 को प्रशासनिक नोडल अधिकारी बनाया गया है। इसके अलावा मुख्य चिकित्साधिकारी ए0के0 श्रीवास्तव मोबाइल नम्बर 9415087567ए 6386685822 तथा चिकित्सा विभाग के नोडल अधिकारी डा0 एस0सी0एल0 द्विवेदी उप मुख्य चिकित्साधिकारी 9415250283 की ड्यूटी लगायी गयी है। एकीकृत कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर का नम्बर 9044406400 व 9044490800 है। जिलाधिकारी ने जनपद को 04 जोन में विभक्त करते हुये जोनल कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर हेतु चिकित्साधिकारियों को जोनल नोडल अधिकारी नामित किया है। उन्होने रानीगंज जोन हेतु डा0 पंकज मिश्रा 9473630267ए पट्टी जोन हेतु डा0 महेन्द्र कुमार 9412010191ए लालगंज जोन हेतु डा0 अरविन्द गुप्ता 9897337418 व कुण्डा जोन हेतु डा0 दिनेश सिंह 9415251234 को जोनल नोडल अधिकारी नामित किया है।

जिलाधिकारी ने एकीकृत कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर पर राउण्ड द क्लॉक के अनुसार जिन कर्मचारीध्अधिकारी की ड्यिटी लगायी है उनमें प्रातः 6 बजे से अपरान्ह 2 बजे तक चिकित्सा विभाग के डा0 अजय पटेल चिकित्साधिकारी 8958600692ए अंजना स्वा0शि0अ0 7080787034 तथा एम्बुलेन्स विभाग के कोआर्डिनेटर रपडेला 9935534090 है। इसी प्रकार अपरान्ह 2 बजे से रात्रि 10 बजे तक चिकित्सा विभाग के डा0 भरत नायक चिकित्साधिकारी 9415253245ए शिवदास सिंह स्वा0शि0अ0 9936449068 तथा एम्बुलेन्स विभाग के कोआर्डिनेटर राधेश्याम एवं रात्रि 10 बजे से प्रातः 6 बजे तक चिकित्सा विभाग के डा0 आमोद कुमार सिंह 9453861560ए रामकुमार सिंह स्वा0शि0अ0 9452141468 तथा एम्बुलेन्स विभाग के कोआर्डिनेटर कपिल की ड्यिटी लगायी गयी है। एम्बुलेन्स सेवा के नोडल को.आर्डिनेटर राकेश कुमार सिंह मोबाइल नम्बर 7235009559ध्7235008989 है।

जिलाधिकारी ने सभी सम्बन्धित अधिकारियोंध्प्रभारी अधिकारियांं को निर्देशित किया है कि नियंत्रण कक्ष में स्थापित टेलीफोन पर कॉल आने पर उसको स्वयं रिसीव करेगें तथा वांछित जानकारी अभिलेखों में अंकित सूचना के आधार पर दी जायेगी तथा यह सुनिश्चित करेगें कि दी गई जानकारी त्रुटिपूर्ण अथवा भ्रामक न हो। सूचना कोरोना वायरस से सम्बन्धित कोई शिकायत प्राप्त होने पर उसकी सूचना तत्काल नोडल अधिकारी मुख्य चिकित्साधिकारी को उपलब्ध करायेगें। इसके अतिरिक्त किसी बिन्दु पर कोई कॉल जैसे भोजनए राशन विद्युतए स्वास्थ्य आदि के सम्बन्ध में आती है तो उसकी रिसीव कर सम्बन्धित सूचनाध्शिकायत को पंजिका में अंकित करने तथा उसका नियंत्रण कक्ष में तैनात सम्बन्धित अधिकारीध्कर्मचारी के माध्यम से निस्तारण 02 घण्ट की अवधि में कराते हुये निस्तारण आख्या का अंकन सम्बन्धित पंजिका में कराया जाना सुनिश्चित करेगें।

प्रशासनिक नोडल अधिकारीध्अपर जिलाधिकारी ;वि0ध्रा0द्ध का यह दायित्व होगा कि नियंत्रण कक्ष में प्रभारी अधिकारियों के माध्यम से निस्तारित करायी जाने वाली शिकायतों की प्रगति से सम्बन्धित पंजिका का प्रतिदिन अवलोकन आदि कर यह सुनिश्चित करेगें कि कोई भी समस्या निस्तारण हेतु अवशेष तो नही है और सम्बन्धित शिकायतध्सूचना का विधिवत् एवं गुणवत्तापरक निस्तारण हो गया है। निस्तारण न होने अथवा गुणवत्तापरक निस्तारण न होने की दशा में स्वयं सम्बन्धित विभागीय अधिकारीध्नोडल अधिकारी से वार्ता कर शिकायत का निस्तारण कराया जाना सुनिश्चित करेगें। जिलाधिकारी ने समस्त सम्बन्धित अधिकारीध्कर्मचारीध्प्रभारी अधिकारी को निर्देशित किया है कि समयानुसार अपनी ड्यूटी समाप्ति के उपरान्त अपने प्रतिस्थानी अधिकारीध्कर्मचारी के आने पर ही अपनी ड्यूटी स्थल से रवाना होगें। साथ ही उनका यह दायित्व होगा कि नोडलध्प्रभारी अधिकारी द्वारा उनको जिस शिकायत के निस्तारण हेतु कहा जाये उसक शिकायत का निस्तारण विलम्बतम 02 घण्टे के अन्दर प्रत्येक दशा में सम्बन्धित अधिकारी से वार्ता आदि कर सुनिश्चित कराया जाये तथा उसका अंकन प्रभारी अधिकारी की देख.रेख में सम्बन्धित पंजिका में सुनिश्चित किया जाये।