भाजपा ही भ्रष्टाचारियों भेज सकती है जेल-मुख्यमंत्री

37
भाजपा ही भ्रष्टाचारियों भेज सकती है जेल-मुख्यमंत्री
भाजपा ही भ्रष्टाचारियों भेज सकती है जेल-मुख्यमंत्री

भाजपा ही भ्रष्टाचारियों और माफियाओं को भेज सकती है जेल। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीलीभीत में प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन को किया संबोधित। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोकसभा से भाजपा प्रत्याशी जितिन प्रसाद के लिए प्रबुद्धजनों से किया संवाद। सपा, बसपा और कांग्रेस आएगी तो माफिया राज भी लाएगी।

हिमांशु दुबे

पीलीभीत। हमारी पीढ़ी खुद को सौभाग्यशाली मानती है कि क्योंकि हमने बदलते हुए भारत को देखा है। 2014 के पहले देश में अविश्वास और अराजकता थी। आम जनमानस में सरकार, सत्ता और राजनीतिज्ञों के प्रति विश्वास नहीं रह गया था। ऐसे में दुनिया ने भारतवासियों को सम्मान देना बंद कर दिया था। वह एक दौर था, जब अन्नदाता किसान आत्महत्या कर रहे थे। युवा पलायन को मजबूर थे। देश में उग्रवाद और नक्सलवाद हावी था। वहीं 2014 के बाद देश की तस्वीर बदल गयी। आज दुनिया नए भारत का दर्शन कर रही है। इसमें सुरक्षा, समृद्धि, नौजवान को रोजगार और आमजन को आस्था की गारंटी मिल रही है। आज दुनिया में देश का सम्मान बढ़ा है। आज लोग गर्व से कहते हैं कि मैं भारतवासी हूं, जिसका नेतृत्व दुनिया के सबसे लोकप्रिय राजनेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करते हैं। ये बातें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को पीलीभीत में आयोजित प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में कहीं। इस दौरान उन्होंने प्रदेश सरकार के मंत्री और बीजेपी के लोकसभा प्रत्याशी जितिन प्रसाद के पक्ष में वोट की अपील की।

सरकार ने पीलीभीत को विकास की नई धारा से जोड़ा

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि देश और प्रदेश का नौजवान अब पलायन नहीं करता है बल्कि खुद का स्टार्टअप स्थापित कर रहा है। बेटियां खुद को असुरक्षित महसूस नहीं कर रही हैं, बल्कि फाइटर पायलट बनकर भारत की सुरक्षा का सिंहनाद कर रही हैं। वहीं भारतवासी गौरव के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में दुनिया में सम्मान प्राप्त कर रहे हैं। आज हमारी सीमाएं पूरी तरह से सुरक्षित हैं, कश्मीर में आतंकवाद, पूर्वोत्तर के राज्यों का उग्रवाद और नक्सलवाद पूरी तरह से खत्म हो चुका है। देश में सुरक्षा का बेहतर वातावरण है।

प्रदेश में अपराधी-माफिया पस्त और बेटी- व्यापारी सुरक्षित हैं। प्रदेश दंगा मुक्त हो चुका है। प्रदेश में कर्फ्यू पर पूरी तरह से लगाम लगी है, लेकिन कांवड़ यात्रा धूमधाम से निकल रही है। उन्होंने कहा कि भारत अपनी विरासत और विकास दोनों में बेहतर समन्वय बनाकर कार्य कर रहा है। पीलीभीत में मेडिकल कॉलेज, रोड और पुल के सारे प्रस्ताव को स्वीकृत कर सरकार ने विकास की नई धारा के साथ इसे जोड़ने का काम किया है। इतना ही नहीं इको टूरिज्म के बेहतरीन डेस्टिनेशन के लिए पीलीभीत को आगे बढ़ने का कार्य भी सरकार कर रही है। पीलीभीत में वन्य जीव और मानव के संघर्ष को रोकने के लिए जंगल के बीच में पड़ने वाली किसानों की जमीन के चारों ओर इलेक्ट्रिक फेंसिंग का काम किया गया है। इसके अलावा जंगली जानवरों से किसानों को बचाने और जनहानि को आपदा की श्रेणी में शामिल कर अन्नदाताओं के लिए मुआवजे की व्यवस्था प्रदेश सरकार लागू कर चुकी है।

फैमिली फर्स्ट बनाम नेशन फर्स्ट और माफिया राज बनाम कानून व्यवस्था के बीच है चुनाव

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में जब देश की बागडोर संभाली तो भारत दुनिया की 11वीं अर्थव्यवस्था के रूप में जाना जाता था। उस समय देश को पिछलग्गू देश माना जाता था। वहीं आज देश पांचवी बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीसरे कार्यकाल के मात्र 3 वर्ष में दुनिया की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में स्थापित किया जाएगा। इस बार यह चुनाव फैमिली फर्स्ट बनाम नेशन फर्स्ट और माफिया राज बनाम कानून व्यवस्था के बीच होने जा रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि याद करिए सपा हो या कांग्रेस उनकी पार्टी का अध्यक्ष केवल एक खानदान का ही व्यक्ति हो सकता है, जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक सामान्य गरीब परिवार से निकलकर पूरा जीवन देश के लिए समर्पित करने वाले हैं। उनके लिये 140 करोड़ का भारत ही उनका परिवार है।

उन्होंने कहा कि सपा कार्यकाल को आपने देखा है जब युवाओं के हाथों में रोजगार की जगह तमंचे लहराते थे। हमने युवाओं को टैबलेट देने का काम किया है। प्रदेश में सपा, कांग्रेस और बसपा के लोग आएंगे तो माफिया राज साथ लेकर आएंगे। वहीं भाजपा कानून के राज में विश्वास करती है। यह चुनाव भ्रष्टाचार बनाम जीरो टॉलरेंस पर हो रहा है। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचारियों और माफिया की जगह जेल होनी चाहिये यह तय करने के लिए दृढ़ इच्छा शक्ति की सरकार चाहिए, यह कार्य भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व में ही हो सकता है। भाजपा के प्रदेश सरकार के मंत्री संजय गंगवार, पूर्व मंत्री सुरेश राणा, विधान परिषद सदस्य रजनीकांत माहेश्वरी, प्रदेश उपाध्यक्ष संतोष सिंह, जिलाध्यक्ष संजीव प्रताप सिंह, जिला प्रभारी गुलशन आनंद आदि उपस्थित थे।