राज्य कर्मचारियों ने महंगाई भत्ते केे लिए उठाई आवाज

पेंशनर्स संघ भी आगे आए, रोके गये भत्तों की बहाली की मांग। एक साथ कई संगठनों ने लगाई गुहार,राज्य कर्मचारियों ने महंगाई भत्ते केे लिए उठाई आवाज।

अजय सिंह

लखनऊ। केन्द्रीय कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ते एवं महंगाई राहत घोषणा के बाद भी राज्य कर्मचारियों को जनवरी, 2022 से देय महंगाई भत्ते की किश्त की घोषणा न किये जाने पर राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद, उ.प्र. के प्रान्तीय अध्यक्ष इं. हरि किशोर तिवारी एवं महामंत्री शिवबरन सिंह यादव द्वारा मुख्यमंत्री से तुरन्त घोषणा किये जाने की मांग की है।परिषद के अलावा इन मांगों को लेकर पेंषनर्स संघ सहित अन्य कई संगठनों ने हॉ में हॉ मिलते हुए मुख्यमंत्री जी से तत्काल राहत की मांग की है।परिषद के पदाधिकारियों द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है, कि उसी शहर अथवा नगर में जहाँ केन्द्रीय कर्मचारी/पंेशनर व उसका परिवार निवास करता है। की अपेक्षा राज्य के कर्मचारियों को महंगाई भत्ते व महंगाई राहत रोके जाने के कारण दोहरी मार पड़ रही है। एक ओर दैनिक जीवन के उपयोग में आने वाली वस्तुओं की कीमत आसमान छू रही है। वहीं कर्मचारी वर्ग को पूर्व से प्रदत्त लगभग एक दर्जन भत्ते पहले ही काटे जा चुके है। जिनके विषय में सरकार मौन साधे हुए है। अब प्रत्येक छमाही दिया जाने वाला महंगाइ भत्ता एवं पंेशनर्स का महंगाई राहत भी रोकना एक प्रकार से कर्मचारी पेंशनर्स समाज का उत्पीड़न है।


वरिष्ठ कर्मचारी नेता इं. हरि किशोर तिवारी ने महंगाई रोक पाने में असमर्थ सरकार से तुरन्त कर्मचारियों के लिए केन्द्र के समान 03 प्रतिशत महंगाई भत्ता व पेंशनर्स के लिए महंगाई राहत स्वीकृत किये जाने की पुरजोर मांग करते हुए मुख्यमंत्री जी से स्वयं हस्तक्षेप की मांग की है। उन्होने वैश्विक महामारी के दौरान रोके गये भत्तों पर भी तुरन्त पुनर्विचार करते हुए प्रदेश के कर्मचारियों के हित में बहाल किये जाने की मांग की है।परिषद की तरफ से दी गई जानकारी में प्रान्तीय अध्यक्ष हरि किशोर तिवारी व महामंत्री शिवबरन सिंह यादव के साथ का. महामंत्री अविनाश चन्द्र श्रीवास्तव, अतिरिक्त महामंत्री अमिता त्रिपाठी एवं सुभाष चन्द्र तिवारी, प्रेम कुमार सिंह (मेडिकल विभाग) धर्मेन्द्र सिंह (समाज कल्याण) टी.एन. चौरसिया (खाद्य एवं रसद) युवराज सिंह परिहार (सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग) अशोक सिंह एवं समर बहादुर सिंह (राजस्व विभाग) सरनाम सिंह, सहजराम कनौजिया (चकबन्दी विभाग) इं. एन.डी. द्विवेदी (लोक निर्माण विभाग) एस.पी. गुप्ता (सेतु निगम) इं. एस.पी. मिश्रा (जल निगम) सहित अनेक कर्मचारी/पेंशनर्स संघो के प्रान्तीय नेताओं द्वारा मुख्यमंत्री से तुरन्त महंगाई भत्ता/महंगाई राहत जारी करने की पुरजोर मांग की है।