प्रणब मुखर्जी की हालत चिंताजनक

दिल्ली के आर्मी रिसर्च एंड रेफरल हॉस्पिटल में 10 अगस्त को प्रणब मुखर्जी (84) को भर्ती कराया गया था और उनकी ब्रेन सर्जरी की गई थी। इससे पहले कोविड-19 जांच में उनके संक्रमित होने की भी पुष्टि हुई थी। उधर, पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले के स्थानीय लोगों ने पिछले सप्ताह प्रणब मुखर्जी के पैतृक स्थान मिरती में जपेश्वर शिव मंदिर में महा मृत्युंजय यज्ञ किया और लंबी उम्र की कामना की।

आर्मी रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल ने कहा है कि प्रणव मुखर्जी के फेफड़ों में संक्रमण होने के कारण तबीयत ज्यादा खराब हो गई है। वह बीते 10 अगस्त से अस्पताल में भर्ती हैं और ब्रेन सर्जरी के बाद वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं। अस्पताल के अधिकारियों की माने तो प्रणब मुखर्जी की मेडिकल कंडीशन में लगातार गिरावट आई है।

 पूर्व राष्ट्रपति वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं और वर्तमान में विशेषज्ञों की एक टीम उनकी देखरेख कर रही है। उनका स्वास्थ्य नियंत्रण में है और उसकी देखरेख की जा रही है। उनके सुधार में सकारात्मक संकेत देखे गए हैं।